in

चले थे IAS बनने, जीत लाये निशानेबाजी WC का गोल्ड मेडल

निशानेबाजी विश्व कप से भारत के लिए बड़ी खुशखबरी आई है। अभिषेक वर्मा ने निशानेबाजी में गोल्ड मेडल अपने नाम कर लिया है। वे 29 साल के हैं और यह उनका दूसरा विश्व कप है। गोल्ड मेडल पर कब्जा करने के साथ ही उन्होंने टोक्यो में होने जा रहे ओलंपिक के लिए भी क्वालीफाई कर लिया है।

केवल तीन साल पहले ही इस खेल में पदार्पण करने वाले अभिषेक वर्मा ने शुरू से ही 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में अपना दबदबा बनाए रखा। आखिरकार उन्होंने निशाना लगा कर स्वर्ण पदक पर कब्जा जमा ही लिया। वर्मा ने 242.7 अंक हासिल किए और इसी के साथ गोल्ड मेडल अपनी झोली में डाल लिया। 

अभिषेक को ऑलराउंडर कहा जा सकता है। कंप्यूटर से लेकर प्रशासनिक सेवा तक के क्षेत्र में हाथ आजमाने वाले अभिषेक ने शौक के तौर पर इस खेल में कदम रखा था। पिछले साल उन्होंने एशियाई खेलों में भी हिस्सा लिया था। यहां उन्हें कांस्य पदक जीतने में सफलता मिली थी। इस जीत के बाद अभिषेक ने बताया कि पहले तो वे बी टेक करना चाह रहे थे, लेकिन यह उन्हें पसंद नहीं आया।

उन्होंने बताया कि इसके बाद उन्होंने यूपीएससी के लिए भी तैयारी की, मगर इसे उन्होंने बहुत कठिन पाया। अंत में कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय से उन्होंने लॉ की पढ़ाई शुरू कर दी। इसी दौरान उन्होंने शौक के तौर पर निशानेबाजी के खेल में भी हिस्सा लेना शुरू कर दिया। वर्मा की मेहनत रंग लाती हुई दिख रही है। उन्हें इस खेल में कदम रखे ज्यादा समय नहीं देता है, पर वे दिग्गजों को पछाड़ते हुए आगे बढ़ते दिख रहे हैं।

What do you think?

Written by playon

डिविलियर्स के दम पर बेंगलुरु ने पंजाब को हराकर लगाई जीत की हैट्रिक

अर्जुन पुरस्कार के लिए बीसीसीआई ने की इनके नामों की सिफारिश