in

बिना दर्शकों के क्रिकेट लगेगा बिना दुल्हन के शादी; शोएब अख्तर

उनका मानना है कि क्रिकेट की मार्केटिंग के लिए दर्शकों का स्टेडियम में होना बेहद जरूरी है।

कोरोना वायरस के चलते मार्च से ही क्रिकेट पर पाबंदी लग गई थी। दुनिया में इस बीमारी से मरने वालों की संख्या 3 लाख से ज्यादा हो चुकी है। हालांकि जिंदगी को पटरी पर लाने की कोशिशें लगातार जारी है। खेलों को भी बिना दर्शक के शुरू करने पर लगातार विचार किया जा रहा है। जर्मनी में बुंदसलीगा लीग की शुरुआत हो चुकी है। इस बीच क्रिकेट को भाई खाली स्टेडियम में करवाने की बातें चल रही है।

तो वहीं दूसरी तरह बोर्ड को डर है कि कहीं पूरा साल ही इस बीमारी की चपेट में ना चल जाए। इंग्लैंड में घरेलू सीजन पिछले महीने शुरू होना था लेकिन कोरोनावायरस के चलते इसको भी आगे सरका दिया गया। हालांकि इंग्लैंड ऐंड वेल्स बोर्ड ने पाकिस्तान और वेस्टइंडीज की मेजबानी की योजना पर काम शुरू कर दिया है। और इन दोनों टीमों के साथ पूरी सीरीज बस दो-तीन स्टेडियम में ही खेले जाने की योजना बन रही है। बोर्ड की कोशिश प्रसारण अधिकार से रेवेन्यू कमाने की है।

अब खाली स्टेडियम में मैच कराने के आइडिया को लेकर पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने तंज कसा है अख्तर ने कहा है कि है ये तो वैसा होगा जैसे दूल्हा दुल्हन की शादी। उनका मानना है कि क्रिकेट की मार्केटिंग के लिए दर्शकों का स्टेडियम में होना बेहद जरूरी है। उन्होंने उम्मीद जताई है कि साल भर के अंदर मौजूदा परिस्थितियों में सुधार होगा और लोग फिर से स्टेडियम में आकर मैच देख पाएंगे।

मनिका पालीवाल

What do you think?

Written by playon

नए दिशानिर्देश पर BCCI ने दिया सटीक जवाब IPL आयोजन में अभी दिक्कत है

अफरीदी ने फिर उगला जहर , शिखर धवन ने दिया मुहं तोड़ जवाब