in

कोरोना वायरस के बीच ये खिलाड़ी शुरू कर सकते हैं प्रैक्टिस

कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के कारण इस समय पूरी दुनिया शांत पड़ चुकी है।

कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के कारण इस समय पूरी दुनिया शांत पड़ चुकी है। जहां सभी दुकानें बंद हैं। बॉलीवुड भी ठप पड़ा हुआ है। तो वहीं ऐसे में क्रिकेट की गतिविधियां भी पूरी तरीके से बंद है। हालांकि सभी खिलाड़ी मैदान पर अपनी वापसी को लेकर काफी ज्यादा बेताब है। इंग्लैंड के क्रिकेटर आने वाले हफ्तों में आउटडोर अभ्यास शुरू कर सकते हैं। इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड जुलाई में वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज के जरिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की बहाली चाहता है।

वेल्स क्रिकेट बोर्ड के क्रिकेट निर्देशक एश्ले जाइल्स ने बयान दिया है कि वैसे सरकार द्वारा जारी स्वास्थ्य ने दिशानिर्देशों के मुताबिक ब्रिटेन में सभी खेलों में खिलाड़ियों का वापस लेने का विकल्प रहेगा।

इतना ही नहीं जाइल्स ने ईएसपीएन क्रिकइन्फो से कहा है कि यह क्रिकेट की बहाली की दिशा में पहला कदम है। उन्होंने यह कहा है कि व्यक्तिगत अभ्यास की बात है। अगर हालात काबू में आ जाते हैं। तो हम सभी को अभ्यास पर लौटना होगा।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि सरकारी विभाग द्वारा जारी दस्तावेजों के मुताबिक खिलाड़ियों के पास इस बात का विकल्प होगा। जिसमें इस बात को कहा गया है कि खिलाड़ियों के पास अभ्यास से पीछे हटने का विकल्प भी मौजूद होगा। उन्हें कोई भी व्यक्ति जबरदस्ती अभ्यास के लिए नहीं कहेगा। इसी के साथ ही उन्होंने कहा है-कि अभ्यास शुरू करने से पहले जोखिम का भी पूरी तरीके से आंकलन किया जाएगा।

नियमों के साथ अभ्यास की बात
इंग्लैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज जोस बटलर ने कहा -खिलाड़ी जब भी मैदान पर अपनी वापसी करेंगे। उन्हें सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पूरी तरीके से पालन करना होगा। इतना ही नहीं बीबीसी से बात करते हुए उन्होंने कहा कि-मैं नियमित तौर पर पढ़ और सुन रहा हूं। की ट्रेनिंग अब अगले दो-तीन सप्ताह में शुरू हो सकती है। मुझे लगता है कि शुरुआत में निजी ट्रेनिंग करानी होगी। वह भी सोशल डिस्टेंस के नियमों को मानते हुए खिलाड़ियों को एक बल्लेबाज के तौर पर मुझे कोई मिलेगा तो तो मुझे गेंदबाजी करेगा।

मनिका पालीवाल

What do you think?

Written by playon

क्या आप जानते हैं महिला क्रिकटर्स को कितनी फीस मिलती हैं सालाना ?

सचिन और रोहित शर्मा को ‘स्टे होम चैलेंज’,कहा -भज्जी के लिए मुश्किल काम